राउरकेला स्टील प्लांट इन हिन्दी ROURKELA STEEL PLANT IN HINDI

राउरकेला स्टील प्लांट इन हिन्दी ROURKELA STEEL PLANT IN HINDI

  • Post comments:0 Comments
  • Reading time:1 mins read

राउरकेला स्टील प्लांट भारत के उड़ीसा राज्य के सुन्दरगढ़ जिला में स्थापित किया गया है.यह प्लांट वर्ष 1955 में जर्मनी के सहयोग से बना है.जो भारत में सार्वजनिक क्षेत्र का पहला इंटीग्रेटेड स्टील प्लांट है.राउरकेला स्टील प्लांट शुरु में 10 लाख टन क्षमता का बनाया गया था.जो बाद में इसे बढाकर 19 लाख टन कर दिया गया .जब राउरकेला स्टील प्लांट का निर्माण हुआ तब उड़ीसा सरकार ने कंपनी को 19722.69 एकड़ ज़मीन दिया.जिसमे प्लांट का निर्माण हुआ,और उसमे 2465 परिवार और 32 गांव विस्थापित हुए थे.लेकिन अभी भी प्लांट का मेन काम बाकी था.वो था डैम बनाना,उसके लिए वर्ष 1957 में मंदिरा डैम का प्रोजेक्ट तैयार किया गया,जो संखा नदी पर बनाया गया है जिसमे 11923.98 एकड़ ज़मीन आवंटित किया गया.और इसमें भी 923 परिवार और 30 गांव विस्थापित हुए

how to creat youtube channle click here

कुल ज़मीन AREA OF ROURKELA STEEL PLANT

SAIL(STEEL AUTHORITY OF INDIA LIMITED) भारत में एक स्टील निर्माण कंपनी है. यह कंपनी लौह और स्टील बनाती है. जो बड़े बड़े कंपनी इसे खरीदकार इसको नयी रूप देकर बाज़ार में बेचा जाता है.जिसे हम कुछ घरेलु सामान में भी इस्तेमाल करते है.जैसे कि अगर घर बनाते है उसमे रॉड का प्रयोग होता है.जो सेल का ही बनाया हुआ रहता है

इस तरह राउरकेला स्टील प्लांट के पास टोटल 30000 एकड़ उपलब्ध कराया गया था.जिसमे सबसे अधिक भूमि आदिवासी समुदाय के लोगो का था.राउरकेला स्टील प्लांट का नाम शुरु में हिंदुस्तान स्टील प्लांट रखा गया था.जो उसी नाम जाना जाता था.लेकिन जब हिंदुस्तान स्टील प्लांट को सेल में विलय किया गया तो उसके बाद इसे राउरकेला स्टील प्लांट के नाम से जानने लगा राउरकेला भारत का पहला स्टील प्लांट है.जो L.D, टेक्नोलॉजी का उपयोग करके स्टील उत्पादन किया है.

भिलाई स्टील प्लांट के बारे में जानने के लिए यहाँ क्लिक करे

राउरकेला इस्पात सयंत्र हिस्ट्री ROURKELA


राउरकेला और पनिपोश दो ऐसे स्टेशन था,जिसके बीच में दुर्गापुर नाम का गांव था.मगर वर्ष 1945 में दुर्गापुर गांव में एक सब -डिविजनल कोर्ट का निर्माण हुआ,जिसके चलते उसके आसपास के पहाड़ को दुर्गापुर के पहाड़ (durgapur hills) के नाम से जानने लगा.जो आज इसे उदितनगर के नाम से जाना जाता है.भारत जब स्वतंत्र हुआ तो भारत का पहला प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरु भारत को एक औधोगिक हब बनाना चाहते थे.

जो श्री बीजू पटनायक ने नेहरु को स्टील प्लांट स्थापित करने के लिए राउरकेला के स्थान पर विचार करने के लिए कहा.लेकिन जिस प्लांट निर्माण होना था,उस जगह घने जंगल से घिरा था.उस समय राजा महाराजा के शीकर के लिए ये जगह बहुत उपयुक्त माना जाता था.लेकिन सारे परेशानी के बाद भी प्लांट का निर्माण हुआ,कई बार जंगली जानवर को प्लांट के आसपास भटकते भी देखा गया है.और एक बंगाल टाइगर को स्टील कि विशाल ब्लास्ट फर्नेश में मौत भी हुआ था ये कथा आज भी पोपुलर है.पास में ही एक गुफा है,जिसमे एक जर्मनी के लापता होने और कोएल नदी में एक खुंगखर भंवर कि कथा भी प्रचलित है.जो आज भी मानव हताहत के लिए जिमेदार है.

राउरकेला इस्पात सयंत्र किस टाइप का स्टील बनती है

  1. H.R SHEET
  2. H.R COIL
  3. E.R.W PIPE
  4. S.W PIPE
  5. C.R SHEET
  6. C.R COIL
  7. G.P SHEET
  8. G.C SHEET
  9. SILICON STEEL SHEET

एक नज़र राउरकेला इस्पात सयंत्र के बारे में (About rourkela steel plant)

  1. इंडस्ट्री – स्टील 
  2. हेड ऑफिस   –   राउरकेला ,ओड़िसा ,भारत 
  3. कर्मचारी  –     13462 (जुलाई 2020)
  4. स्थापना वर्ष  –  1955 
  5. टाइप  – पब्लिक सेक्टर अंडरटेकिंग (सेंटरल गवर्मेंट )
  6. स्थान  –  सुन्दरगढ़ 
  7. राज्य  –   उड़ीसा 
  8. देश  – भारत 
  9. वेबसाइट  – www.sail.co.in/rourkela

नोट – आपको ये जानकारी कैसी लगी हमें कमेंट करके जरुर बताये ,धन्यवाद्

Leave a Reply