ओडिशा

ओडिशा odisha

  ओड़िसा उड़ीसा की राजधानी कहां है उड़ीसा राज्य कब बना

  • ओडिशा राज्य भारत के ठीक पूर्वी तट पर स्थित है.और इसकी राजधानी भुवनेश्‍वर है.जिसकी सीमा आंध्र प्रदेश ,झारखण्ड ,छतीसगढ़ और पश्चिम बंगाल से लगती है.और इनके पडोसी राज्य भी है.बंगाल की खाड़ी ठीक इसके पूर्व में है.राज्य को क्षेत्रफल आधार पर भारत का 9वाँ सबसे बड़ा राज्य है.और जनसंख्या के आधार पर राज्य को 11वाँ स्थान दर्जा मिला हुआ है.ओडिशा 1 अप्रैल 1936 को अस्तित्व में आया था.जो वर्तमान में 30 जिला ,314 ब्लॉक,और 317 तहसील है. इससे पहले ब्रिटिश काल में ओडिशा और बिहार दोनों बंगाल का हिसा हुआ करता था.जब बंगाल का विभाजन हुआ तब दोनों राज्य बंगाल से कट कर अलग हो गया जिसे आज हम ओडिशा के नाम से जानते है.जो आज भी इनकी सीमा बंगाल झारखण्ड और बिहार को छूती है.ओडिशा राज्य की मुख्य भाषा उड़िया है.जो यहाँ के लोगो द्वारा बोली जाती है

          ये भी पढ़े छतीसगढ़ राज्य 

   1 राज्य ओडिशा
  2 राजधानीभुवनेश्‍वर
  3 क्षेत्रफल155707
  4 जनसंख्या41947358
  5 विधानसभा की सीटे147
  6 राज्यसभा की सीटे10
  7 लोकसभा की सीटे20
  8 ब्लॉक314
  9 तहसील317
  10 भाषाउड़िया

  ओडिशा में कितने जिले है

  • ओडिशा में कुल 30 जिले है,जो इस प्रकार है
  जिला क्षेत्रफल
1  कटक3932 sq km
2भद्रक जिला2505 sq km
3सम्बलपुर6702 sq km
4रायगढ़7073 sq km
5सुंदरगढ़9712 sq km
6सोनपुर (सुब्रनपुर)2284.89 sq km
7बरगढ़5837 sq km
8बालेश्वर3806 sq km
9बलांगगिर6575 sq km
10बौध जिला3098 sq km
11अनुगुल6375 sq km
12कंन्धमाल8081 sq km
13कलाहान्डी7920 sq km
14केंदुझार8303 sq km
15केन्द्रापड़ा2644 sq km
16कोरापुट8807 sq km
17खोर्धा जिला2813 sq km
18गजाम8070 sq km
19गजपति3850 sq km
20जगतसिंगपुर1759 sq km
21जाजपुर2887.69 sq km
22झारसुगुडा2114 sq km
23देवगढ2781 sq km
24ढेन्कानाल4472 sq km
25पूरी जिला3479 sq km
26मालकनगिरी5791 sq km
27नबरंगपुर5294 sq km
28नयागढ़3890 sq km
29मयूरभंज10418 sq km
30 नुआपड़ा3852 sq km

 

  पहाड़ पर्वत और जंगल

  • ओडिशा की भूमि को तीन प्रकार से विभाजीत किया गया है.राज्य के पश्चिम हिस्सा में पहाड़ी क्षेत्र है.जिसमे अनेक प्रकार के पेड़ पौधे और  घने जंगलो से ढाका हुआ है.जिसमे सगवन ,कुसुम, ओक,रोजवुड,बांस ,तेंदू के पेड़ भारी मात्रा में पाया जाता है.तेंदू के पत्ते से बीड़ी को बनाया जाता है.यहाँ हाथी जैसे बड़े जनवर का भी निवास स्थान है. इसके ठीक पूरब में उपजाऊ वाला तटीये मैदान पाया जाता है.इसमें महानदी और अन्य दूसरा नदी का डेल्टा क्षेत्र पाया जाता है.और उतर और बीच के भाग में छोटानागपुर का पठार पाया जाता है.ओडिशा राज्य लगभग 42 प्रतिशात भाग घने जंगलो से ढाका हुआ है.

             youtube

  ओडिशा की नदी उड़ीसा की प्रमुख नदियाँ

  • ओडिशा में कई ऐसी नदियाँ है जो राज्य से होकर गुजरती है.इसमें प्रमुख नदी महानदी ,ब्राहमनी ,और बैतरनी है.इसमें दो नदियाँ ब्राहमनी और बैतरनी नदी , महानदी से मिलती है.जहाँ ये तीनो नदी एक साथ डेल्टा वाले स्थान तक पहुचती है.इसके अलावा ओडिशा में एक झील पाया जाता है.जिसका नाम चिल्का झील है.जिसकी लम्बाई लगभग 64 किलोमीटर है.इसका पानी खारा होता है.जो एशिया महादेश का सबसे बड़ा  झीलों में से एक है.इस झील में डॉलफिन और दुसरे मछलियों की विभिन्न प्रजातियाँ पायी जाती है.ये झील महानदी के दक्षिण भाग में स्थित है.
    महानदी पर बनाया गया उड़ीसा का हीराकुंड बांध दुनिया का सबसे लम्बा मिट्टी का बांध है.जिसकी ऊंचाई करीब 300 फीट है.और इसकी लम्बाई लगभग 25 किलो मीटर है.इस बांध के पानी को सिंचाई और बिजली उत्पादन के लिए उपयोग किया जाता है.जिससे बहुत सारे कारखाना इसी बांध के पानी से बनी बिजली पर निर्भर रहती है.

  उड़ीसा के मौसम

  • ओडिशा का जालवायु पहाड़ी इलाका में पुरे साल सुहाना रहता है.वही गर्मी के मौसम में गर्म रहता है.राज्य में जून के अंत तक बारिश शुरू होती है.जो सितम्बर तक रहती है.इस समय भारी वर्षा होती है.जिससे नदियों में बढ़ आ जाती है.इस बढ़ को रोकने में हीराकुण्ड बांध सहायता करती है.

  ओडिशा में कौन सी खेती होती है

  • राज्य में चावल, मुख्य फसल है.इसके अलावा दाल,तिलहन ,पटसन ,पिस्ता .गन्ना ,नारियल ,और हल्दी जैसा फसलो को भी उगाया जाता है.यहाँ आम ,खजूर के जैसा अनेक फलो के पेड़ के बड़े बड़े बागन भी है. इससे लोगो के  लिए रोजगार का भी एक साधन बन गया है.यहाँ के तटीये भाग भी बहुत उपजाऊ है.जो विभिन्न प्रकार के फसलो के उत्पादन के लिए उपयुक्त मना जाता है.राज्य के 70 प्रतिशात लोग कृषि पर निर्भर है.इसके अलावा लोग खनन और कारखाना में भी काम करते है.यहाँ मछलियों का भी व्यापार होता है.जिसमे मुख्य रूप से मछली पालन शामिल है.

  खनिज संसाधन

  • ओडिशा राज्य खनिज संसाधन में भी धनी है.यहाँ पर मैगनीज ,कोयला ,और बाक्साइट,लाइमस्टोन ,डोलोमाइट ,निकेल अयस्क ,चीनी मिट्टी ,टिन अयस्क ,सीसा अयस्क जैसा खनिज भारी मात्रा में पाया जाता है.ओडिशा में लोह अयस्क का उत्पादन भारी मात्रा में किया जाता है.यहाँ राउरकेला स्टील प्लांट जो इस्पात का बहुत बड़ा फैक्ट्री है.इसके अलवा यहाँ पर छतरपुर में सेंड काम्प्लेक्स ,तलचर में हैवी वाटर प्रोजेक्ट ,मेनचेस्टर में कोच रिपेयरिंग शॉप ,कोरापुर में एल्युमीनियम काम्प्लेक्स ,तलचर में केपटिव पॉवर प्लांट और पाराद्वीप पर उर्वरक स्टील प्लांट मौजूद है.

  ओडिशा की वेशभूषा ओडिशा की भाषा

  • राज्य में ज्यादातर लोग उड़िया भाषा बोलते है.लेकिन यहाँ स्थानीय लोगो का भी अपना अपना भाषा है जिसमे अनुसूचित जन जाति और अनुसूचित जाति मुक्य रूप से अपनी भाषा बोलते है.राज्य के लोग प्राचीन काल से धोती और कुर्ता पहनते आये है.जो त्यौहार हो या शादी समारोह में ऐसे पहनावा देखने को मिलेंगे.आज के समय में युवा पीढ़ी में भले ही परिवर्तन आया हो.लेकिन धोती कुर्ता पहनना भी यहाँ का एक परम्परा है.उसी तरह महिला भी साड़ी और ब्लाउज और लड़की सलवार कमीज़ पहनती है.

  ओडिशा में त्यौहार

  • राज्य का सबसे बड़ा त्यौहार रथ यात्रा है.जो भारत से लेकर पुरे विश्व में प्रसिद्ध है इसके अलावा यहाँ राष्ट्रीय त्यौहार को भी जैसे दुर्गा पूजा ,दीपावली ,होली और ईद को धूम धाम से मनाया जाता है.यहाँ श्रावन पूर्णिमा एक फसलो का प्रमुख त्यौहार है.

  पर्यटक स्थल उड़ीसा घूमने की जगह

  • राज्य में बहुत सारे ऐसे पर्यटक स्थल है.जहाँ हर साल हजारो लाखो की संख्या में लोग देखने के लिए आते है.इसमें सबसे प्रसिद्ध मुख्य रूप से कोणार्क का सूर्य मन्दिर ,पूरी में जगन्नाथ मन्दिर ,और भुनेश्वर में लिंगराज मन्दिर है.और पाराद्वीप बंदरगाह जो ओडिशा का प्रमुख बंदरगाह है.इसके अलावा चिल्का झील ,हीराकुण्ड बांध ,उपाकोठी वन्य जीव अभयारण ,दुदुमा जलप्रपात ,गोपनपुर का समुद्री तट ,उदयगिरी की प्राचीन गुफाएं ,आदि है.

 उड़ीसा यूनिवर्सिटी

राज्य में कुल 7 विश्वविधालय है.जो इस प्रकार है.

  • सम्बलपुर यूनिवर्सिटी
  • ओडिशा यूनिवर्सिटी ऑफ़ एग्रीकल्चर टेक्नोलॉजी
  • ब्रहापुर यूनिवर्सिटी
  • उत्कल यूनिवर्सिटी
  • श्री जगन्नाथ संस्कृत यूनिवर्सिटी
  • विजू पटनायक यूनिवर्सिटी ऑफ़ राउरकेला
  • फकीर मोहन विश्वविधालय बालेश्वर

ओडिशा मेडिकल कॉलेज

  • श्री रामचंद्र भंज मेडिकल कॉलेज कटक
  • वीर सुरेन्द्र साये मेडिकल कॉलेज सम्बलपुर
  • महाराजा कृष्णा गजपति देव मेडिकल कॉलेज ब्रहापुर
  • आयुर्वेदिक मेडिकाल कॉलेज
  • सरकारी आयुर्वेदिक कॉलेज पूर

ओडिशा के स्वास्थ सेवा

राज्य में सभी प्रकार के मेडिकल सुविधा उपलब्ध है.जिसमे सरकारी और प्राइवेट अस्पताल प्रमुख है.जो हर तरह की बीमारियों का जो सम्भव हो उसका इलाज किया जाता है.जिसमे कुछ मुख्य हॉस्पिटल है

  • गवर्मेंट हॉस्पिटल झारसुगुडा
  • सेंट्रल हॉस्पिटल ईस्ट कोस्ट रेलवे भुनेश्वर
  • सुपर स्पेसलिस्ट हॉस्पिटल राउरकेला
  • आल इंडिया ऑफ़ मेडिकल साइंस भुनेश्वर
  • कलिंगा हॉस्पिटल एण्ड रिसर्च सेंटर
  • हायटेक मेडिकल कॉलेज एण्ड हॉस्पिटल राउरकेला
  • सिट्टी हॉस्पिटल कटक
  • इस्पात जेनरल हॉस्पिटल राउरकेला
  • एच .सी .जी पांडा कैंसर हॉस्पिटल कटक
  • उत्कलमणि होमियोपैथीक मेडिकल कॉलेज एण्ड हॉस्पिटल
  • गवर्मेंट आयुर्वेदिक हॉस्पिटल भुनेश्वर

ये सब राज्य बड़े हॉस्पिटल में से एक है.जो हर प्रकार के बीमारी का इलाज होता है.इन सब के अलावा भी राज्य में बड़े बड़े निजी हॉस्पिटल भी मौजूद है .जो बेहतर स्वस्थ सेवा उपलब्ध कराती है.